द वन: अभिमन्यु स्पेशल कलेक्टर्स एडिशन (The One: Abhimanyu Special Collectors Edition)

नमस्कार मित्रों, हाल ही हमने मिथटावर इंटरटेनमेंट की “द वन: अभिमन्यु” पुस्तक समीक्षा आप सबके समक्ष प्रस्तुत की थी जिसे आप लोगों का बहुमूल्य प्रेम प्राप्त हुआ था. इसी सिलसिले में कल ‘द वन’ के रचियता और प्रकाशक एवं भारत के प्रसिद्ध कॉमिक बुक आर्टिस्ट श्री ‘धीरज वर्मा’ जी अपने प्रसंशकों के साथ फेसबुक पर ‘लाइव’ आए और कुछ घोषणाएं की.

पढ़ें – कॉमिक्स समीक्षा: द वन – अभिमन्यु

The One: Abhimanyu - MythTower Entertainment
The One: Abhimanyu – MythTower Entertainment

उपलक्ष्य था ‘राज कॉमिक्स’ के नायक जंगल के जल्लाद “भेड़िया” के सिल्वर जुबली यानि 25 वर्ष पूरे होने की खुशी में जो की शायद पिछले वर्ष 2019 को ही पूर्ण हुआ है पर वक़्त और माहौल देखते हुए इसे धीरज जी ने अभी सभी भेड़िया के पाठकों के साथ साझा किया.

Bhediya - Raj Comics - Jaljeevani
यहाँ से खरीदें
आर्ट: धीरज वर्मा
राज कॉमिक्स
जलजीवनी – भेड़िया

करीब करीब 45 मिनिट लंबी परिचर्चा में धीरज जी ने पाठकों के कई सवालों के जवाब दिए और भारत में कॉमिक्स के प्रभाव और कई बिंदुओं पर चर्चा भी की. आईये देखते है की उनके चर्चा के मुख्य बातें क्या रहीं.

Dheeraj Verma - Facebook Live
धीरज वर्मा जी ‘लाइव’ फेसबुक पर
मुख्य बिंदु
  • जंगल के जल्लाद – भेड़िया के भारतीय कॉमिक्स जगत में सफलता पूर्वक 25 वर्ष पूर्ण करने की बधाइयाँ प्रेषित की गई.
  • धीरज जी और उनकी टीम एक नए प्रोजेक्ट पर कार्य कर रही है जो बहुत जल्द जनवरी माह में आपके समक्ष प्रस्तुत की जाएगी.
  • द वन: अभिमन्यु के साथ अनोखा प्रयोग किया गया है और इसका “द वन: अभिमन्यु स्पेशल कलेक्टर्स एडिशन” पेपरबैक फॉर्मेट में उपलब्ध होगा और इस पर एक खास एक ‘सादा’ कवर होगा जिस पर धीरज जी एक कमीशन आर्ट बना कर देने वाले है.
  • इस सादे कवर वाले स्पेशल कलेक्टर्स एडिशन की संख्या मात्र 200 होगी और इसका मूल्य 2000/- रुपये है.
  • कवर पर कमीशन आर्ट के साथ धीरज जी हस्ताक्षर भी होंगे और उसका नंबर भी लिखा होगा (1………200).
  • इसे आप धीरज जी से पर्सनल फेसबुक में ‘संदेश’ भेज कर या उनके ऑफिसियल ईमेल आईडी पर मेल करके प्रेषित कर सकते है – dheerajvermart@gmail.com और आपको कवर पर क्या चित्रित करवाना है वो भी पाठकों को उन्हें बताना पड़ेगा.
  • कॉमिक्स के उत्थान पर भी काफी चर्चा हुई और धीरज जी सभी प्रशंसकों को इस बात का आश्वासन दिया उनके प्रयास भारतीय कॉमिक्स इंडस्ट्री में बने रहेंगे और भविष्य में भी कई प्रोजेक्ट्स पर कार्य किया जाएगा.

पाश्चात्य कॉमिक्स जगत में यह विधा या प्रक्रिया बड़ी पुरानी है जहाँ लोग ‘ब्लैंक’ या सादे कागज के कवर प्रकाशकों द्वारा ही छापे जाते रहें है और कॉमिक्स प्रसंशक अपने पसंदीदा कॉमिक बुक आर्टिस्ट से उस कॉमिक्स के कवर पर अपने पसंद के नायक/नायिकाओं को चित्रित करवा सकते है. ये अंक बेहद संग्रहणीय होते है और इनका मूल्य भी ‘नार्मल’ कॉमिक्स से अलग होता है. धीरज जी ने एक सैंपल के तौर पर भेड़िया का चित्र एक सादे कवर पर चित्रित करके दिखाया है जिसे आप नीचें देख सकते है.

आर्ट: धीरज वर्मा
राज कॉमिक्स
भेड़िया

पढ़ें – आर्टिस्ट कार्नर ‘जन्मदिन विशेष’: धीरज वर्मा (Comic Book Artist – Dheeraj Verma)

जो मित्र वीडियो पूरा देखना चाहें वो लिंक पर क्लिक करके देख सकते हैधीरज वर्मा लाइव

बहरहाल मैं यही कहूँगा का ऐसे पहल की कॉमिक्स इंडस्ट्री को बहुत जरुरत है एवं जैसे नए पुराने प्रकाशक कॉमिक्स जगत में अपने आक्रमक रवैये से नई नई घोषणाएं कर रहें है वह हमें एक बेहतर कॉमिक्स समुदाय बानने की ओर अग्रसर करेगा. कोई भी शंका हो तो हमें टिपण्णी करके बताएं, आभार – कॉमिक्स बाइट!!

Night of the Living Dead Volume 3: Paperback

Night of the Living Dead Volume 3: 03 Paperback

Comics Byte

A passionate comics lover and an avid reader, I wanted to contribute as much as I can in this industry. Hence doing my little bit here. Cheers!

Leave a Reply

error: Content is protected !!