आजादी की ज्वाला – स्वतंत्रता सेनानी ध्रुव (Azadi Ki Jwala – Swatantrata Senani Dhruva)

Navneet Singh
नवनीत सिंह

नवनीत सिंह (Navneet Singh) – श्री नवनीत सिंह जी पेशे से चिकित्सक हैं और उनका निवास स्थान अम्बाला केंट (हरयाणा) में हैं। कॉमिक्स जगत में पिछले कुछ वर्षों में अगर आप देखें तो पाएंगे की उनका कॉमिक्स प्रेम आम कॉमिक्स प्रेमी से ज्यादा ही दिखेगा फिर चाहे वो उनका लेखन हो या चित्रांकन। अपने ‘हंसगुल्लों’ से उन्होंने पाठकों का मनोरंजन तो किया ही हैं लेकिन आधिकारिक रूप से वह ‘ड्रीम कॉमिक्स‘ के माध्यम से अपनी पहली कॉमिक्स “महासंग्राम” भी प्रकाशित कर चुके हैं। सिर्फ भारतीय पात्र ही नहीं विदेशी कॉमिक्स में भी उनकी काफी रुचि है जिसमें माँगा और विशेषकर ‘गोकू‘ उनका पसंदीदा किरदार हैं। डीसी कॉमिक्स में ‘वाचमैन‘ श्रृंखला भी उन्हें बेहद पसंद है। भारत की पौराणिक कथाएं एवं ग्रंथ उन्हें उत्साहित करते है और इस पर वह घंटों बात कर सकते हैं जो उनका एक अनसुना पहलु है और इस पक्ष से बहुत कम लोग ही वाकिफ होंगे।

Space
आजादी की ज्वाला (Azadi Ki Jwala)

कथा : श्री मनोज गुप्ता जी , श्री आयुष गुप्ता, चित्र : श्री देबज्योति, संवाद : श्री तरुण कुमार वाही जी, रंग : श्री अभिषेक सिंह, कैलीग्राफी : श्री नीतिश शर्मा, संपादन : श्री मनोज गुप्ता जी एवं विशिष्ट सहयोग : श्रीमती मीनू गुप्ता जी।

सर्वप्रथम तो कॉमिक्स का नायक “स्वतंत्रता सेनानी ध्रुव” है, इसे “सुपर कमांडो ध्रुव” न समझें ! दोनों में बहुत फर्क है ! सुपर कमांडो ध्रुव राज कॉमिक्स का मेनस्ट्रीम नायक तथा भारतीय कॉमिक्स के सबसे चहेते काल्पनिक किरदारों में से एक है ! स्वन्त्रता सेनानी ध्रुव एक ‘एल्सवर्ल्ड‘ टाइप का किरदार है, कहने का तात्पर्य एक नया किरदार जिसकी बेसिक सोर्स ऑफ इंस्पिरेशन सुपर कमांडो ध्रुव है। आप इसे एक अलग समयधारा का ध्रुव या एक अलग आयाम का ध्रुव कह सकते हैं।

Azadi Ki Jawla - Raj Comics
आजादी की ज्वाला – स्वतंत्रता सेनानी ध्रुव
राज कॉमिक्स बाय मनोज गुप्ता
कहानी (स्टोरी)

कहानी जैसा कि इसके टाइटल से ही आप अंदाजा लगा सकते हैं कि यह अंग्रेजों के समयकाल की कहानी है जब भारत पर अंग्रेजी सरकार का हुक्म चलता था। ध्रुव एक क्रांतिकारी है जो अपने शहर, अपने देश को अंग्रेजों की गुलामी से आजादी दिलवाना चाहता है और प्रयास करता है अपने देशवासियों के दिल में धधकाने की .. आजादी की ज्वाला !

Azadi Ki Jawla - Swatantrta Senani Dhruva - Raj Comics
आजादी की ज्वाला – स्वतंत्रता सेनानी ध्रुव
राज कॉमिक्स बाय मनोज गुप्ता

कहानी एक एल्सवर्ल्ड कांसेप्ट के तौर पर बहुत अच्छी है। मैं तो सोच रहा था कि राज कॉमिक्स ने ऐसे प्रयोग पहले क्यों शुरू नहीं किए ? विदेशी कॉमिक्स में ऐसे WHAT IF ? या ELSE-WORLDS कॉन्सेप्ट्स की भरमार है। और वो कहानियां चिरपरिचित किरदारों को एकदम नए समयकाल या एकदम नए वातावरण में ले जाकर बनाई जाती हैं जो रेगुलर कहानी से हटके एकदम नयेपन का एहसास देतीं हैं। आयुष गुप्ता जी इस मामले में बधाई के पात्र हैं, क्योंकि अधिकतर भारतीय कॉमिक्स फैन अभी इन प्रयोगों के लिए तैयार नहीं हैं। उन्हें अपने चहेते किरदारों के संग कोई भी प्रयोग या छेड़छाड़ पसंद नहीं, यह उनका उस किरदार के साथ एक भावनात्मक लगाव के कारण है।

खैर, कुछ प्रयोगों और कुछ और ऐसी अच्छी और अलग कहानियों के साथ धीरे-धीरे सब इन कॉन्सेप्ट्स को अपनाने लगेंगे ! एक नए आयाम का आगाज़ करती ‘आजादी की ज्वाला‘ अपने आप में एक पहला प्रयास है तो ज़ाहिर है कुछ कमियां होंगी, कुछ अच्छाइयां होंगी, कुछ को पसंद आएगा, कुछ को नहीं। मुझे व्यक्तिगत तौर पर पसन्द आया यह प्रयोग।

Azadi Sena - Raj Comics
आजादी सेना – स्वतंत्रता सेनानी ध्रुव
राज कॉमिक्स बाय मनोज गुप्ता

चित्र : देबज्योति जी ने इस कहानी का चित्रांकन किया है, जो एक अलग स्टाइल के आर्टिस्ट हैं। चित्र अलग अंदाज में बनाये गए हैं तो जाहिर है कि एकदम से कई सारे फैंस को जमेगा नहीं। हालांकि चित्रांकन कुछ जगह काफी अच्छा है, पर कुछ जगह देबज्योति जी को और मेहनत करनी होगी। आखिर ये एक नया और महत्त्वकांक्षी प्रोजेक्ट है, वो भी एक नए किरदार का पहला अंक, तो इस से थोड़ा और ज्यादा उम्मीद थी पर उनका काम सराहनीय है एवं साथ ही सुधार की गुंजाइश और आवश्यकता है।

रंग : अभिषेक जी ने बहुत अच्छा काम किया है रंग सज्जा में। पूरे कॉमिक का लुक एक SEPIA कलर टोन में है, जो दर्शाता है कि ये 100-200 साल पुराने समयकाल की कहानी है।

संवाद : तरुण कुमार वाही जी के संवादों से तो हर फैन परिचित है। उनके बारे में कुछ भी लिखना सूर्य को दीपक दिखाने जैसा है।

कैलीग्राफी : नीतिश जी का कार्य बहुत अच्छा है। बबल, स्पेस एडजस्टमेंट, आर्ट को बचाकर बबल रखना। उन्होंने अपना कार्य दक्षता से किया है।

संपादन : मनोज जी ने कथा लिखने में भी योगदान दिया है और कथा के संपादक भी हैं। सबसे ज्यादा तो वो बधाई के पात्र हैं कि उन्होंने फैंस को एक नए प्रकार की कहानी दी, एक नए आयाम का द्वार राज कॉमिक्स के ब्रह्मांड में उन्होंने खोल दिया है अपने इस महत्वकांक्षी प्रोजेक्ट से।

आशा है कि मनोज सर ऐसे और भी नए और मनोरंजक प्रोजेक्ट्स को बढ़ावा देंगे और ऐसी और नई कहानियां पाठकों को पढ़ने को मिलती रहेंगी। कुल मिलाकर मुझे व्यक्तिगत तौर पर यह कहानी वाकई पसंद आई और मैं आगे आने वाले इसके अगले भागों के लिए प्रतीक्षारत हूँ।

Sarpsatra - Raj Comics - Nagraj - Tausi
सर्पसत्र – नागराज और तौसी
आर्ट: अनुपम सिन्हा
राज कॉमिक्स बाय मनोज गुप्ता

क्यों इसे खरीदें : अगर नया कुछ ट्राई करने की सोच रहे हैं, else-worlds या what if ? जैसी कहानियों को पसंद करते हैं। नई राज कॉमिक्स पढ़ना चाहते है !

आज़ादी की ज्वाला खरीदने के लिए लिंक पर क्लिक करें – Purchase Here!!

क्यों न खरीदें : केवल सुपर कमांडो ध्रुव ही पढ़ना चाहते हैं, उसका कोई दूसरा वर्शन नहीं। नया आर्टिस्ट पसंद नहीं। राज कॉमिक्स ही नही पढ़ते या पसंद नहीं !

Yugnaykam – Raj Comics

Yugnaykam - Raj Comics

Comics Byte

A passionate comics lover and an avid reader, I wanted to contribute as much as I can in this industry. Hence doing my little bit here. Cheers!

Leave a Reply

error: Content is protected !!