फूल और कांटे (Fool Aur Kante) – शक्ति सीरीज

शक्ति को राज कॉमिक्स का पहली महिला सुपर हीरोइन का ख़िताब प्राप्त है, इसकी उत्पत्ति की कहानी और नारी शक्ति की रक्षा का प्रण इसे बेहद दमदार किरदार बना देता है. शक्ति ने वर्ष 1998 को कॉमिक्स जगत में पदार्पण किया और उसके बाद उसे अपेक्षित सफलता भी मिली. राज कॉमिक्स के सभी नायकों के साथ उसकी जुगलबंदी देखने लायक थी एवं उसका स्थान भी राज कॉमिक्स के नायक-नायिकाओं की सूची में शामिल हो गया.

फूल और कांटे – शक्ति

आज बात करेंगे शक्ति के एक बेहद ही सामन्य मगर देशभक्ति और प्रेम से ओत प्रोत कॉमिक्स ‘फूल और कांटे’ के बारे में. ये अजय देवगन जी की फिल्म फूल और कांटे से बेहद अलग है और फिल्म का इस कॉमिक्स से कोई संबंध नहीं है सिवाय नाम के. यह कॉमिक्स वर्ष 1999 को प्रकाशित हुई थी जिसे सभी कॉमिक्स पाठक ‘नागराज एक्शन ईयर’ के नाम से भी जानते है.

शक्ति तब तक पाठकों में अपनी पकड़ बना चुकी थी, श्री धीरज वर्मा और श्री राजेंद्र धौनी की ‘भेड़िया’ वाली टीम भी शक्ति को बराबर अच्छा आर्टवर्क प्रदान कर रही थी और श्री तरुण कुमार वाही भी अच्छी कहानियाँ पाठकों तक पहुंचा रहे थे. नागराज, ध्रुव और डोगा के बीच में शक्ति ने भी अपना एक पाठक वर्ग बना लिया था. फूल और कांटे भी एक ऐसी ही कॉमिक्स है जिसे आप औसत से उपर ही रख सकते है.

नाम: फूल और कांटे संख्या: 993, वर्ष: 1999, प्रकाशन: राज कॉमिक्स मूल्य: 8 रुपये

इस कॉमिक्स के कवर का कार्य किया है श्री ‘धीरज वर्मा’ जी ने, कहानी लिखी है श्री ‘तरुण कुमार वाही’ जी ने, सहयोग किया श्री विवेक मोहन जी ने, श्री ‘धीरज वर्मा’ जी ने चित्रांकन भी किया है, इंकिंग श्री ‘राजेंद्र धौनी’ जी की है, सुलेख व रंग पर कार्य किया है श्री ‘सुनील पाण्डेय’ जी ने एवं इसके संपादक थे श्री ‘मनीष गुप्ता’ जी.

पेश है ‘फूल और कांटें’ कॉमिक्स का शानदार कवर: आर्टवर्क – श्री धीरज वर्मा एवं साभार – राज कॉमिक्स

शक्ति सीरीज - फूल और कांटें
राज कॉमिक्स
फूल और कांटे
राज कॉमिक्स

यह कॉमिक्स हैलो बुक माइन पर उपलब्ध है, आज ही अपनी प्रति बुक कीजिये – Hello Book Mine

प्लाट

शक्ति नारियों और लोगों की रक्षा करने के अपने कार्य में व्यस्त है दिल्ली में, वहीँ कश्मीर में आकाश और अनु नाम की एक जोड़ी अपने घर में आने वाले नन्हें मेहमान का इंतज़ार कर रही है, कुछ घटनाओं के चलते आकाश को जल्दबाज़ी में अनु को लेकर हॉस्पिटल निकलना पड़ता है पर पहाड़ी इलाकों में भूस्खलन के कारण सभी रास्ते जाम है, अनु की करुण पुकार पर प्रकट होती है शक्ति और उन्हें वो झटपट हस्पिटल पहुंचा देती है. यहाँ हॉस्पिटल से आकाश कुछ आतंकवादी अपहरण कर लेते है और उसके बाद जो घटनाएँ घटित होती है उन्हीं पर फूल और कांटे का ताना बाना बुना गया है.

शक्ति
फूल और कांटे
शक्ति
फूल और कांटे

आर्ट: धीरज वर्मा
कहानी एवं आर्टवर्क

कहानी सामान्य है जैसा की मैंने पहले कहा है और एक्शन भी काफी है क्योंकि वर्ष तो ‘एक्शन ईयर’ वाला ही था. कुछ एक फ्रेम बेहद ही लाजवाब है जैसे अनु का अपनी पीठ पर अपने छोटे बच्चे को बांध कर आतंवादियों से टक्कर लेना. आकाश का आतंकवादियों के समक्ष ना झुकना और शक्ति का इन दहशतगर्दों को सबक सिखाना बढ़िया लगा. आकाश ने अपनी बेटी का नाम भी शक्ति रख कर यह साबित किया की बेटियां घर परिवार को शक्ति संपन्न करने का मादा रखती है और अनु का साहस भी आपको उनके प्रेम के प्रति कर्तव्य को बखूबी दर्शाता है.

कॉमिक्स का एक पैनल
शक्ति फूल और कांटे

अंत में कहूँगा की ये कॉमिक्स सभी पाठकों के पास होनी चाहियें और अभी ये उपलब्ध भी है. नारी शक्ति का प्रतीक ‘शक्ति’ की ये चित्रकथा सभी के पास जरुर होनी चाहियें, आभार – कॉमिक्स बाइट!!

बैककवर पर पर परमाणु और स्टील के 2 इन 1 कॉमिक्स विनाशक का जबरदस्त विज्ञापन

Vinashak
Parmanu & Steel 
Comics Ad

मार्वल कॉमिक्स के कॉम्बो को खरीदने के लिए यहाँ क्लिक कीजिये – मार्वल कॉमिक्स

Buy Marvel Comics 
Amazon

Comics Byte

A passionate comics lover and an avid reader, I wanted to contribute as much as I can in this industry. Hence doing my little bit here. Cheers!

error: Content is protected !!