कॉमिक्स समीक्षा – विनाशदूत (राज कॉमिक्स बाय मनोज गुप्ता) – (Comics Review – Vinashdoot – Raj Comics By Manoj Gupta)

अनादि अभिलाष

अनादि अभिलाष (Anadi Abhilash) जी का ताल्लुक ‘कोयला नगरी’ धनबाद, झारखंड के एक मध्यमवर्गीय परिवार से हैं । हालांकि इनकी प्रारंभिक शिक्षा, हाई स्कूल और +2 की शिक्षा झारखंड के ही सिमडेगा, जमशेदपुर और रांची से हुई । राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दुर्गापुर से बी.टेक की डिग्री प्राप्त की और मुंबई में कार्यरत हैं । काॅलेज के दिनों से ही राष्ट्रीय स्तर पर नाटक, नुक्कड़ करते आए हैं और मुंबई में विहंगम थियेटर ग्रुप से जुड़े हुए हैं ‌। स्वरदीपिका नाम से इनकी एक प्राॅडक्शन वेंचर भी कार्यशील है । बचपन के दिनों से ही काॅमिक्स में विशेष रूचि है और भारतीय काॅमिक्स इंड्रस्टी के उत्थान के लिए कुछ कर गुजरना चाहते हैं और प्रयासरत भी हैं । इनका मानना है कि अगर आप और हम मिलकर संकल्प लें तो भारतीय काॅमिक्स इंड्रस्टी बुलंदियों को छू सकती है ।

Space
कॉमिक्स समीक्षा – विनाश्दूत (राज कॉमिक्स बाय मनोज गुप्ता) – (Comics Review – Vinashdoot – Raj Comics By Manoj Gupta)

नमस्कार दोस्तों, सन 1986 में हमारे बीच आई राज काॅमिक्स और समय के साथ भारतीय काॅमिक्स जगत में इतिहास भी रचा । आज बात होगी राज काॅमिक्स के पहले हीरो विनाशदूत की पहली काॅमिक्स ‘विनाशदूत’ की जो कि राज काॅमिक्स के पहले सेट में ही प्रकाशित हूई थी । हाल के दिनों में राज काॅमिक्स बाय मनोज गुप्ता द्वारा पुन: मुद्रित हुई है ।

Vinashdoot - Raj Comics - Old Ad
Vinashdoot – Raj Comics – Old Ad Year 1986
कहानी (Story)

काॅमिक्स में विनाशदूत को वज्र ग्रह का आखिरी प्राणी बतलाया गया है । एक अप्रत्याशित दुर्घटना की वजह से वज्र ग्रह नष्ट हो जाता है और ग्रह का एक टुकड़ा पृथ्वी की ओर गिरता है जिसका रूख मोड़ दिया जाता है हिंद महासागर की ओर । वज्र ग्रह के इस टुकड़े के साथ पृथ्वी पर आता है विनाशदूत और अपराध विनाशक के रूप में भारत को बना लेता है अपना घर ।

Vinashdoot - Raj Comics
Vinashdoot – Raj Comics By Manoj Gupta
टीम (Team)

विनाशदूत की पहली कहानी अच्छी लिखी गई है – लेखक हैं श्री परशुराम शर्मा जी और चित्रकार हैं श्री जगदीश पंकज जी । संपादन का कार्य किया हैं श्री मनोज गुप्ता जी ने और आपको बता दूँ की वर्ष 1986 में परशुराम जी और जगदीश जी कला जगत में काफी बड़े नामों में शुमार हुआ करते थें ।

Vinashdoot - Raj Comics By Manoj Gupta
Vinashdoot – Raj Comics By Manoj Gupta
संक्षिप्त विवरण (Details)

प्रकाशक : राज कॉमिक्स बाय मनोज गुप्ता (पिनव्हील पब्लिकेशन)
पेज : 40
पेपर : मैट ग्लॉसी
मूल्य : 90/-
भाषा : हिंदी
कहां से खरीदें : हैलो बुक माइन, कॉमिक्स अड्डा, कॉमिक क्लॉन, कॉमिक माफिया, उमाकार्ट और कॉमिक हवेली

Raja Pocket Books - Ved Prakash Sharma
Raja Pocket Books – Ved Prakash Sharma
निष्कर्ष (Conclusion)

अगर आप राज काॅमिक्स के प्रशंसक हैं और विनाशदूत के बारे जानना चाहते हैं तो ये काॅमिक्स आपके लिए संग्रह योग्य है । विनाशदूत को राज कॉमिक्स का पहला सुपरहीरो होने का गौरव भी प्राप्त हैं और प्रथम सेट में ही इसके नाम पर कॉमिक्स प्रकाशित हुई थीं ।

Vinashdoot
Vinashdoot

Raj Comics | Foundation Set | Set of 4 Timeless General Comics

Raj Comics | Foundation Set | Set of 4 Timeless General Comics

Comics Byte

A passionate comics lover and an avid reader, I wanted to contribute as much as I can in this industry. Hence doing my little bit here. Cheers!

Leave a Reply

error: Content is protected !!