पहली झलक – ‘7 पुनर्मुद्रित राज कॉमिक्स’ और राजप्रेम कॉमिक्स का ‘प्रतीक चिन्ह’

नमस्कार मित्रों, 7 कॉमिक पुनर्मुद्रित होकर आ चुकी है और श्री संजय गुप्ता जी ने उनकी पहली झलक भी पाठकों के साथ साझा की है. कॉमिक्स बाइट के न्यूज़ बाइट्स थ्रेड पर आपका स्वागत है और आज आप देखेंगे उन कॉमिक्स की पहली झलक एवं मुझे पूरी उम्मीद है जैसा संजय जी पहले भी कह चुके है की इस हफ्ते ये सभी कॉमिकें बुक शॉप्स, बुक सेलर्स और ऑफलाइन मार्केट में उपलब्ध हो जाएँगी.

पुनर्मुद्रित राज कॉमिक्स (नागराज और सुपर कमांडो ध्रुव)
पुनर्मुद्रित राज कॉमिक्स (नागराज और सुपर कमांडो ध्रुव)

“जिन मित्रों ने कॉमिक्स बाइट का पेज लाइक नहीं किया या फॉलो नहीं किया वो जरुर ये कार्य कर लें क्योंकि हम सिर्फ राज कॉमिक्स ही नहीं बल्कि अन्य सभी कॉमिक्स पब्लिशर्स की जानकारी यहाँ मुहैया कराते रहते है. समय समय पर होने वाले प्रतियोगिताएं, स्पेशल ऑफर्स एवं और भी बहुत कुछ कॉमिक्स बाइट के पोर्टल पर आपको देखने को मिल जाएगा”

राज कॉमिक्स खरीदने के लिए लिंक पर क्लिक कीजिए – राज कॉमिक्स

*नोट: संयुक्त संकरण (खूनी खानदान सीरीज) के कवर की छवि भी साफ साफ चित्र में देखी जा सकती है पर संजय जी ने फ़िलहाल हमें ये बताया की यह अभी उपलब्ध नहीं होगी, शायद नए वेब पोर्टल पर ‘स्टोर’ को अपडेट करके ही इन्हें उपलब्ध कराया जाएं.

नया प्रतीक चिन्ह

राज कॉमिक्स ग्रुप के एडमिन श्री ‘मंदार गंगेले’ जी ने आज राजप्रेम कॉमिक्स का नया टेस्ट ‘प्रतीक चिन्ह’ भी साझा किया. इसकी कोई आधिकारिक घोषणा तो नहीं हुई और ना ही किसी ने इस बात की पुष्टि की. लेकिन पाठकों से इस पर सुझाव जरुर माँगा गया. आइये एक नज़र डालते है इस नए ‘प्रतीक चिन्ह’ पर जिसे बनाया है कॉमिक बुक आर्टिस्ट – श्री ‘ललित कुमार शर्मा’ जी ने.

राजप्रेम कॉमिक्स
प्रतीक चिन्ह’ का स्पष्टीकरण

जैसा की संजय जी ने कहा भी था की यह नाम उन्होंने अपने माता-पिता को नाम को ध्यान में रखकर दिया है इसलिए इसे ‘राज कॉमिक्स’ ना कहकर “राजप्रेम कॉमिक्स” कहा जाएं, इसे उन्होंने एक नई शुरुवात भी बताया. अब अगर आप इस ‘प्रतीक चिन्ह’ को देखें तो पाएंगे की ‘आर’ जो है उसका आकर बड़ा है जो ‘पिता’ के वृहद् रूप को दर्शाता है, वहीं ‘पी’ के उपर लाल बिंदी दिख रही है जो ‘माँ’ को दर्शाती है, दोनों आपस में जुड़े हुए है जैसे माता-पिता. नीचे कॉमिक्स अंग्रेजी भाषा में लिखा है जो ‘स्पीच बबल’ के अंदर लिखा हुआ है जिसका सीधा अभिप्राय ‘कॉमिक्स’ से ही है.

कुछ पाठकों ने इस ‘प्रतीक चिन्ह’ को पसंद किया तो कुछ प्रशंसकों ये बिलकुल पसंद नहीं आया. अब आगे क्या फैलसा होगा इसकी घोषणा भी जल्द हमें देखने को मिलेगी, इसलिए जो भी कॉमिकें पुनर्मुद्रित होकर आई है उन्हें अपने नज़दीकी कॉमिक्स विक्रेता से मंगवाइए और कॉमिक्स के अद्भुद संसार का आनंद जरुर लीजिए, आभार – कॉमिक्स बाइट!!

Pack of 6 Women’s Monthly Magazines (Grehlaxmi September, Vanita April and July, Grehshobha July, Nari Shobha and Sakhi)

Pack of 6 Women's Monthly Magazines (Grehlaxmi September, Vanita April and July, Grehshobha July, Nari Shobha and Sakhi)

Comics Byte

A passionate comics lover and an avid reader, I wanted to contribute as much as I can in this industry. Hence doing my little bit here. Cheers!

Leave a Reply

error: Content is protected !!