फिक्शन कॉमिक्स: कोविड-19 से जंग

Fiction Comics: फिक्शन कॉमिक्स की स्थापना वर्ष 2009 को हुई लेकिन किरदारों के मूल(ओरिजिन) के उपर काम करते करते इन्हें काफी समय लगा और अप्रैल 2018 को फिक्शन कॉमिक्स का पहला सेट प्रकाशित हुआ. फिक्शन कॉमिक्स के जनक है बसंत पंडा जी और सुशांत पंडा जी जिन्हें किसी परिचय की जरुरत नहीं, दोनों भाइयों ने राज कॉमिक्स (भारत के सबसे बड़े कॉमिक्स पब्लिकेशन हाउसेस में से एक) के साथ कई वर्षों तक काम किया और इनके करकमलों द्वारा हमें कई कॉमिक्सें पढने एवं देखने को मिली. बेदी जी के बाद बांकेलाल पर सुशांत जी ने ही काम किया और बंसंत जी इफ़ेक्ट और रंगसज्जा का कार्यभार सँभालते रहे, मेरी पसंदीदा तो 3 इन 1 ‘अंगारे’ और राज कॉमिक्स द्वारा प्रकाशित हास्य हिंडोला रही. मैंने फिक्शन कॉमिक्स के ऑफिस में जाकर उनसें मुलकात भी की है और यक़ीनन बसंत जी और सुशांत जी के उत्साह को देखकर एवं जमीन से जुड़े उनके व्यवहार से मैं भाव विभोर हो गया. मेरे ख्याल से हर कॉमिक्स क्रिएटिव में वो छोटा बच्चा कहीं बसा रहता है जो आपको ऐसे कार्य करने के लिए प्रेरित करता है!

ब्लू ऑय और नेक्टर
साभार: फिक्शन कॉमिक्स

फिक्शन कॉमिक्स में अब तक 9 सेट प्रकाशित हो चुके है और 10 वें सेट का प्री आर्डर चालू है, आप दिए गए लिंक पर क्लिक करके फिक्शन कॉमिक्स के ऑफिसियल वेबसाइट से आर्डर कर सकते है फिक्शनकॉमिक्स.इन या कॉमिक्स बाइट के न्यूज़ पोर्टल पर जानकारी ले सकते है. फिक्शन कॉमिक्स में कई सुपर हीरोज है या कहूँ की पूरा यूनिवर्स ही है, इतने कम समय में इतने सारे किरदारों को गढ़ना भी कोई आम बात नहीं है. उनके कुछ खास किरदारों में से है –

  • नेक्टर
  • ब्लू आईज
  • द ब्रेन
  • ब्लैक मास्क
  • अमावास (हॉरर)
  • वीरांगना बिलासा
  • सेंडो
  • पगली(डार्क फिक्शन)
  • महावीर भूताल
  • कॉप
  • अमीश
फिक्शन यूनिवर्स

वैसे तो चाचा चौधरी से लेकर नागराज और ध्रुव तक अपने अपने तरीके से कोरोना से टक्कर लें चुके है तो फिर फिक्शन यूनिवर्स कैसे पीछे रह सकता था कुछ जिम्मेदारी तो सुपर हीरोज की भी बनती है की समाज और लोगों में जागरूकता फैलाएँ, फिक्शन के सुपर हीरोज भी कोरोना महामारी से निपटने के लिए पूरी तरह से तैयार थे और कैसे उन्होंने इस महामारी का अंत किया आपको ये फिक्शन कॉमिक्स के नए रिलीज़ – “Covid 19 कोरोना से जंग” में पढने को मिलेगा. आप फिक्शन कॉमिक्स के ब्लॉग पर जाकर भी इसके कुछ सैंपल पेजेज पढ़ सकते है एवं पाठकों की सुविधा के लिए कुछ सैंपल मैं यहाँ भी जोड़ रहा हूँ जो नीचे संलग्न है.

फिक्शन इनिशिएटिव: फिक्शन कॉमिक्स अब “इंस्टामोजो” पर डिजिटल प्रारूप में भी उपलब्ध है, यहाँ कुछ कॉमिक्सें प्ररचा प्रसार के लिए ई-बुक फॉर्मेट में सुलभ मूल्य पर पाठकों के लिए अनुक्रमित है, आप इन्हें वेबसाइट के लिंक पर क्लिक करके सीधे ख़रीदे और डिजिटल फॉर्मेट में इनका आनंद लीजिये. यहाँ पर मैं फिक्शन कॉमिक्स द्वारा शुरू किये गए पहल पर भी चर्चा करूँगा. “Covid 19 कोरोना से जंग” के डिजिटल प्रारूप से जमा हुई 80% राशि (PM Cares Fund) प्रधानमंत्री राहत कोष में जमा की जाएगी. कॉमिक्स बाइट से विशेष बातचीत में बसंत जी ने जोर देते हुए कहा –

हर देश पर आज कोरोना का प्रकोप फैला हुआ है, ऐसे कठिन परिस्थियों में सभी देशवासियों को एक साथ ये प्रण लेना चाहिए की जो भी व्यवस्था सरकार ने की हो सभी उसका पालन करें और ज्यदा से ज्यदा इस मुहीम में प्रशासन का सहयोग करें, फिक्शन कॉमिक्स भी स्थानीय लोगों में जागरूकता बढ़ा रही है और जमीनी स्तर पर इस विषय पर कार्य भी कर रही है”

– बसंत पंडा (को-फाउंडर फिक्शन कॉमिक्स)
इन्स्टामोजो

कोरोना वायरस से जंग नामक कॉमिक्स में निम्नलिखित कलाकरों ने अपना योगदान दिया है –

  • परिकल्पना – बसंत पंडा, सुशांत पंडा
  • लेखक – अनुराग कुमार सिंह
  • चित्रांकन – सुशांत पंडा
  • कलर इफ़ेक्ट – बसंत पंडा
  • शब्दांकन – मंदार गंगेले

प्लाट: फिक्शन कॉमिक्स के सभी सुपर हीरोज आज फिक्शन के हेडक्वाटर में उपस्थित है, टीवी पर कोरोना वायरस के उपर समाचार जारी है, मृतकों का आंकड़ा लगातार बढता जा रहा है, भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी टीवी पर 21 दिनों के लॉकडाउन घोषणा करते है, थोड़ा विचार विमर्श के बाद ‘द ब्रेन’ इन सब के पीछे किसी ‘ईविल फेस’ नाम की खलनायिका का हाथ है जो एक पागल वैज्ञानिक भी है, सभी सुपर हीरोज ‘ईविल फेस’ को रोकने का बीड़ा उठाते है और वो कैसे इसे रोकते है इसके लिए आपको ‘Covid 19 कोरोना से जंग’ कॉमिक्स ही पढ़नी पड़ेगी. नीचे है फिक्शन कॉमिक्स के कुछ शानदार पोस्टर!

कॉमिक्स बाइट – #ComicsAgainstCorona के तहत हम ये लेख लेकर उपस्थित हुए है, आप भी इस मुहीम का हिस्सा बन सकते है, ज्यदा जानकारी के लिए ‘कॉमिक्स अगेंस्ट कोरोना‘ के पहल के बारे में जानिए. मुझे काफी कमेंट्स और संदेश प्राप्त हो रहे है, कॉमिक्स बाइट को पाठकों का प्रतिसाद अच्छा मिल रहा है, उम्मीद करता हूँ हम सभी कॉमिक्स प्रेमी मिलकर भारत में कॉमिक्स का ‘पुनः उत्थान’ करने में सफल होंगे, हमारे फेसबुक पेज को जरुर लाइक करें ताकि भविष्य की कोई जानकारी आपसे छूटे नहीं, आभार – आपका मित्र! कौन अरे वही जो संदूक में, अलमारी में, आपके टेबल से लेकर आपके स्मार्टफ़ोन में और लाखों लोगों के दिलों में बसा “कॉमिक्स”.

Comics Byte

A passionate comics lover and an avid reader, I wanted to contribute as much as I can in this industry. Hence doing my little bit here. Cheers!

Leave a Reply

error: Content is protected !!