असम बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकार्ड्स: कॉमिक्स बाइट / कॉमिक्स थ्योरी / एमआरपी बुक शॉप का महत्वपूर्ण योगदान

मित्रों जैसा की आपको पता है की अक्टूबर के महीने में कॉमिक्स बाइट ने एक एक्सक्लूसिव कवरेज प्रस्तुत किया था अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के उपलक्ष्य में, नारायण राव बहुउद्देशिये एजुकेशन सोसाइटी (नागपुर), गर्ल राइजिंग, डेडो डिज़ाइन लैब्स (नागपुर), थीम, विक्रम ठाकुर जी(कॉमिक्सबाज़), अविनाश भोजने जी व गुरमीत सिंह नरूला जी के सहयोग से कॉमिक्स आर्ट वर्कशॉप का आयोजन किया गया था, इस कार्यक्रम में विशेष रूप से सहयोग रहा कॉमिक्स थ्योरी, कॉमिक्स बाइट एवम् एमआरपी बुक शॉप का (जानने के लिए लिंक पे जाये – अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस)

साभार: असम बुक ऑफ़ रिकार्ड्स

अब पांच महीनों के बाद असम बुक ऑफ़ रिकार्ड्स ने इस इवेंट को “वर्ल्ड रिकॉर्ड” घोषित किया है. इस भागीरथी प्रयास के कर्म पुरुष बने निनाद जाधव जी को आज ही वर्ल्ड रिकॉर्ड बनने की खबर प्राप्त हुई और असम बुक ऑफ़ रिकार्ड्स ने अपने फेसबुक पेज पर इस बात की आधिकारिक पुष्टि भी की. (जानने के लिए असम बुक ऑफ़ रिकार्ड्स के आधिकारिक वेबसाइट लिंक पर क्लिक करें – “कॉमिक्स लोगो डिजाइन प्रतियोगिता“).

साभार: असम बुक ऑफ़ रिकार्ड्स फेसबुक

असम बुक रिकॉर्ड के अनुसार:

“नारायणराव बहुउद्देशिये एजुकेशन सोसाइटी, नागपुर में भारत के एक सक्रिय सदस्य निनाद जाधव जी ने सरकारी स्कूल के 214 बालिकाओं के साथ “बालिका के अंतर्राष्ट्रीय दिवस” ​​पर एक कॉमिक्स लोगो डिज़ाइन प्रतियोगिता का आयोजन किया। लड़कियों के उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, चांदामेटा, छिंदवाड़ा जिला (म.प्र।) 11 अक्टूबर 2019 को DADO डिज़ाइन लैब्स, ग्रीन विजिल, अविनाश भोजने, गुरमीत सिंह नरूला, कॉमिक्स थ्योरी, कॉमिक्स बाइट और एमआरपी बुक शॉप की बड़ी मदद, समर्थन और योगदान के साथ। अक्षरा कॉमिक्स का नाम, अक्षरा अनवेशा जाधव के नाम पर रखा गया जो की निनाद जी सुपुत्री भी है एवम् जिन्होंने अपने नाम एक दर्जन से ज्यदा वर्ल्ड रिकॉर्ड्स कर रखे हैं और स्वयं “लव, केयर एंड एजुकेट द गर्ल चाइल्ड” का समर्थन करती हैं।” असम बुक ऑफ रिकॉर्ड्स (ABR) ने निनाद जाधव के प्रयासों की सराहना की और उन्हें इस वर्ल्ड रिकॉर्ड सर्टिफिकेट से सम्मानित किया है।

असम बुक ऑफ़ रिकार्ड्स

इससे पहले भी “एवेरेस्ट वर्ल्ड रिकॉर्ड” ने इस प्रयास की भूरी भूरी प्रंसंशा की थी और इवेंट को अपने रिकॉर्ड बुक में स्थान भी दिया था, जानने के लिए पढ़े हमारा कवरेज – कॉमिक्स आर्ट वर्कशॉप – “बालिका शक्ति”

अब विदा लेता हूँ मित्रों पर हमारी ये पूरी कोशिश रहेगी की कॉमिक्स को भारत के घर घर फिर से पहुँचाया जाये और ऐसे प्रयास हम आगे भी करते रहेंगे, अगर ये पोस्ट आपको पसंद आई तो इसे अपने मित्रों, दोस्तों, ग्रुप्स, फेसबुक और अन्य सोशल टच पॉइंट्स पर ज्यदा से ज्यदा शेयर करे, हमारे फेसबुक पेज को लाइक करे और कोई अन्य जानकारी आपके पास हो तो हमे कमेंट सेक्शन में मेंशन करिये, आभार – कॉमिक्स बाइट!

Comics Byte

A passionate comics lover and an avid reader, I wanted to contribute as much as I can in this industry. Hence doing my little bit here. Cheers!

Leave a Reply

error: Content is protected !!