सर्पसत्र – ‘नागराज और तौसी’- राज कॉमिक्स बाय मनोज गुप्ता (Sarpsatra – Nagraj Aur Tausi – Raj Comics By Manoj Gupta)

नमस्कार दोस्तों, राज कॉमिक्स बाय मनोज गुप्ता द्वारा साल की सबसे बहुप्रतीक्षित कॉमिक्स ‘सर्पसत्र‘ का शुभ आगमन अब हो चुका है और वादे के अनुसार साल के पहले छमाही में ही राज कॉमिक्स बाय मनोज गुप्ता ने दो नए कॉमिक्स कॉमिक्स प्रसंशकों की झोली में डाल दिए है जिनका इंतजार पाठकों को पिछले वर्ष से था। सर्पसत्र के विज्ञापन ने ही कॉमिक्स जगत में सनसनी मचा दी थी जब विश्वरक्षक नागराज और नागलोक का युवराज तौसी एक साथ नज़र आए थें एवं उनके बीच के टकराव की खबर हर जगह आग की तरह फैली। भारत के प्रसिद्ध कॉमिक बुक आर्टिस्ट श्री अनुपम सिन्हा जी के कूंची से निकले इस अलबेले शाहकार को हर अजीज कॉमिक्स प्रेमी के संग्रह में जरुर होना चाहिए।

Sarpsatra - Raj Comics - Paperback
आर्टवर्क – अनुपम सिन्हा
सर्पसत्र
राज कॉमिक्स बाय मनोज गुप्ता

कॉमिक्स फिलहाल प्री आर्डर पर उपलब्ध है और लगभग सभी पुस्तक विक्रेताओं के पास आप इन्हें ऑफलाइन या ऑनलाइन बुक कर सकते है। इसे फ़िलहाल पेपरबैक संस्करण में निकाला जा रहा है जिसे जुलाई के प्रथम सप्ताह में सभी को प्रेषित कर दिया जाएगा और पाठकगण से अनुरोध है की कॉमिक्स जगत के इस ‘मोस्ट अवैटेड बैटल’ को अगर आपने मिस कर दिया तो काफी कुछ छूट जाएगा आपसे क्योंकि एक तो विश्वरक्षक नागराज वापस आ रहा है ‘ड्रैगन किंग’ के बाद और दूसरा तुलसी कॉमिक्स में पाताल लोक का सम्राट तौसी भी अपने प्रेयसी अप्सरा को ढूढ़ने निकल पड़ा है, जहाँ पथ में उससे टकराने वाला है नागराज!!!

Sarpsatra - Raj Comics
सर्पसत्र
राज कॉमिक्स बाय मनोज गुप्ता

सर्पसत्र में कुल पृष्ठ संख्या 48 है और इसका मूल्य 199/- रूपये रखा गया है जो आज के तारीख में बिलकुल भी ज्यादा नहीं है। भारी संख्या में अपने आर्डर प्रेषित कीजिए और राज कॉमिक्स बाय मनोज गुप्ता के इस प्रयास को सफल सिद्ध कीजिए अथवा वो दिन दूर नहीं की वर्ष में दो – चार कॉमिक्स भी कोई प्रकाशक ना लाएं क्योंकि प्रशंसकों का प्रतिसाद ही किसी भी प्रकाशक के लिए महत्वपूर्ण होता है। हालाँकि राज कॉमिक्स पढ़ने वाले जुझारू पाठक इस बात को हर बात गलत साबित करते हैं और अपना प्रेम विभिन्न माध्यमों से दर्शाते रहते हैं। इसी बात के मद्देनजर कुछ पुराने संग्राहक संस्करण भी बाज़ारों में आज प्री बुकिंग में उपलब्ध थे जिसे पाठकों ने हांथों-हाँथ ले लिया और लगभग सभी पलक झपकते ही आउट ऑफ़ स्टॉक हो गए।

  • सर्वनायक – सर्वरण
  • सर्वनायक विस्तार – स्वर्ण नगरी की तबाही
  • क्षतिपूर्ती श्रृंखला – विषपरस्त

प्री आर्डर पर 10% की छूट भी कई विक्रेताओं के पास उपलब्ध है –

कॉमिक्स प्रशंसकों को यह टकराव पढ़ना ही होगा और जो इस कॉमिक्स को नहीं खरीदेगा तो तब ‘तौसी’ नागराज का पीछा करते हुए महानगर, शहर, गाँव या आपके घर आ टपकेगा, इसे तौसी के पाठकों के लिए एक चेतावनी समझा जाए (अप्सरा और तौसी के कॉमिक्स में प्रकाशित हुए विंटेज विज्ञापन से लिया गया और फिर से लिखा गया एक अंश), आभार – कॉमिक्स बाइट!!

Aatankharta Nagraj Collection Set-1

Aatankharta Nagraj Collection Set-1

Comics Byte

A passionate comics lover and an avid reader, I wanted to contribute as much as I can in this industry. Hence doing my little bit here. Cheers!

Leave a Reply

error: Content is protected !!